आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021: Ayushman Bharat Arogya Card कैसे बनायें, डाउनलोड करें

संक्षिप्त जानकारी

नमस्कार दोस्तों, आज हम “ आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड ( PMJAY Ayushman Bharat Golden Card ) 2021 ” के बारे में ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया, उद्देश्य, ऑनलाइन आवेदन पत्र लागू करने के लिए आवश्यक दस्तावेज, पात्रता, योजना की विशेषताएं और लाभ जैसी जानकारी साझा करते हैं। इसके अलावा, आप आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड ( Ayushman Bharat Arogya Card) लाभार्थी सूची डाउनलोड पीडीएफ की जांच कर सकते हैं और PM Ayushman Bharat Golden Card Online Download आधिकारिक वेबसाइट यानी www.pmjay.gov.in के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन की स्थिति की जांच कर सकते हैं ।

योजना की संक्षिप्त नवीनतम जानकारी

योजना का नाम आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड
आवेदन की स्थिति Active

Table of Contents

Ayushman Bharat Jan Arogya Card 2021: आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड स्थिति, लाभार्थी सूची, नवीनतम समाचार अपडेट

नवीनतम समाचार अपडेट Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana, Ayushman Golden Card: आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभार्थी को इलाज के लिए एक कार्ड मुहैया करवाया जाता है। इसे आयुष्मान गोल्डन कार्ड नाम दिया गया है।

हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने कहा कि आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत प्रदेश में गोल्डन कार्ड जारी करने के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है. स्वास्थ्य विभाग ने शेष परिवारों को 31 मार्च, 2021 तक गोल्डन कार्ड जारी करने का लक्ष्य रखा है।

‘आपके द्वार आयुष्मान’ अभियान (Aapke Dwar Ayushman) के अंतर्गत 9.42 लाख लोगों को मिला आयुष्मान कार्ड

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत ‘आपके द्वार आयुष्मान’ अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत एक दिन में सबसे ज्यादा 9.42 लाख आयुष्मान लाभार्थियों का सत्यापन हुआ. 25 मार्च का दिन उस समय ऐतिहासिक बन गया जब एक दिन में सबसे ज्यादा आयुष्मान लाभार्थियों का सत्यापन एनएचए आईटी सिस्टम ने रिकॉर्ड किया.

 इस समय यह अभियान पंजाब, जम्मू-कश्मीर, हरियाणा, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, उत्तराखंड तथा अन्य केंद्र शासित प्रदेशों में संचालित किया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत लाभार्थियों का सत्यापन भी किया जाता है। जिसके पश्चात उनका गोल्डन कार्ड बनवाने की प्रक्रिया आरंभ कर दी जाती है। लाभार्थी द्वारा गोल्डन कार्ड सीएससी केंद्र और यूटीआईआईटीएसएल केंद्र से भी निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है।

प्रत्येक लाभार्थी परिवार का सत्यापन और प्रति वर्ष 5 लाख रुपये का निःशुल्क इलाज

‘आपके द्वार आयुष्मान’ अभियान 1 फरवरी, 2021 से एबी पीएम-जय के बारे में लाभार्थियों को जागरूक करने के लिए शुरू किया गया. इस अभियान के अंतर्गत ग्रामीण और सुदूर हिस्सों में रहने वाले लाभार्थियों को योजना के लाभ के बारे में बताने के साथ-साथ आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित करना है. ध्यान देने वाली बात यह है कि इस योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी परिवार को प्रति वर्ष 5 लाख रुपये का निःशुल्क इलाज प्राप्त करने का अधिकार है.

लाभार्थी अपना आयुष्मान कार्ड संबंधित सीएससी केंद्र और यूटीआईआईटीएसएल केंद्र से निःशुल्क प्राप्त कर सकते हैं.

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021 ऑनलाइन आवेदन करें @www.pmjay.gov.in

सारांश: राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण भारत सरकार ने नई योजना की घोषणा की है आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड (PMJAY Card)। जिसकी सहायता से देश का कोई भी व्यक्ति आयुष्मान भारत योजना में चुने गए सरकारी और निजी हॉस्पिटलों में अपना 5 लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते है | 

यह गोल्डन कार्ड उन गरीब लोगो को मिलेगा जो आयुषमान भारत योजना के लाभार्थी होंगे | आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभार्थियों को अब गोल्डन कार्ड के लिए नहीं दौड़ना पड़ेगा। उनका कार्ड भी लोक सेवा केंद्रों (सीएससी) पर बनेगा। इसके बाद इसे सभी केंद्रों पर लागू किया जाएगा। इससे ग्राम स्तर पर लाभार्थियों को बड़ी राहत मिलेगी।

आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीबों का पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज है। इसके लिए हर परिवार को गोल्डन कार्ड जारी करना होगा। योजना में चयनित अस्पतालों, जिला अस्पताल व सीएचसी में अभी तक गोल्डन कार्ड नहीं बन पाए थे। लेकिन लाभार्थियों की सुविधा को देखते हुए जन सेवा केंद्रों (सीएससी) पर गोल्डन कार्ड बनाने का मौका भी दिया गया।

सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक पूर्ण अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता विवरण और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड (Ayushman Bharat Golden Card) 2021” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे जैसे योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया और बहुत कुछ।

आयुष्मान भारत योजना गोल्डन कार्ड कैसे बनवाएं 2021: Summary

योजना का नाम आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड (PMJAY Card)
योजना के अंतर्गत आयुषमान भारत योजना – Ayushman Bharat Yojana (PMJAY)
द्वारा लॉन्च किया गया श्री नरेंद्र मोदी
शासी निकाय राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण भारत सरकार
विभाग स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय
लाभार्थी भारत के नागरिक
योजना लाभ 5 लाख रुपए तक मुफ्त इलाज
योजना का उद्देश्य सरकारी और निजी अस्पतालों में मुफ्त इलाज 
योजना श्रेणी केंद्र/राज्य सरकार
राज्य का नाम संपूर्ण भारत
लेख श्रेणी योजना/Scheme/ Yojana/ Yojna
आधिकारिक वेबसाइट www.pmjay.gov.in

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021: Ayushman Bharat Yojana Golden Card ऑनलाइन आवेदन पत्र

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021: ऑनलाइन आवेदन पत्र Ayushman Bharat Yojana Golden Card पीडीएफ डाउनलोड करें :आयुष्मान भारत योजना सितंबर 2018 में शुरू की गई थी। इस योजना के तहत गरीबों को पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज दिया जाता है। इसके तहत अब तक 70 लाख से ज्यादा लोगों का इलाज किया जा चुका है। सरकार ने इलाज के लिए भुगतान करते हुए अस्पतालों को 4500 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान भी किया है। कई लोग इस योजना का लाभ उठा रहे हैं। यह सरकारी योजना गरीबों को ध्यान में रखकर बनाई गई है।

You can check here आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड (PMJAY Card) 2021 Apply Online Registration, Ayushman Bharat Arogya Card Application Form PDF Download, Eligibility, Beneficiary List, Hospital List, Payment/ Amount Status, Features, Benefits and Check Online Application Status at Official Website www.pmjay.gov.in.

किसी और के नाम कार्ड जारी होने पर यहां दर्ज कराएं शिकायत

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत आपके नाम का आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) यदि किसी कारणवश किसी और के नाम जारी हो गया है तो चिता करने की जरूरत नहीं| आप इस बात की जानकारी टोल फ्री नंबर पर दे सकते हैं।

  • प्रधानमंत्री का पत्र या प्लास्टिक कार्ड आदि लगाकर अपनी शिकायत टोल फ्री नंबर 180018004444 या 14555 पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं । इसके अलावा सीएमओ कार्यालय में तैनात डिस्ट्रिक्ट इम्प्लीमेंटेशन यूनिट (डीआईयू) टीम के माध्यम से भी शिकायत दर्ज करा सकते हैं । शिकायत का निस्तारण करने के बाद आपके नाम से आयुष्मान कार्ड जारी कर दिया जाएगा।
  • इसके अलावा योजना से संबंधित दस्तावेज लेकर लाभार्थी जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय भी जा सकता है। कार्यालय में लाभार्थी को डिस्ट्रिक्ट इंप्लीमेंटेशन यूनिट के पास अपनी शिकायत दर्ज करानी होगी। इस तरह की शिकायतें आने पर मामले की जांच की जाएगी एवं दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा।
  • सत्यापन के बाद शिकायत शासन को भेज दि जाएगी। शासन स्तर से अनुमति प्राप्त होने के बाद लाभार्थी द्वारा सूचीबद्ध चिकित्सालय या जन सेवा केंद्र के माध्यम से आयुष्मान कार्ड बनवा सकता।

आयुष्मान भारत योजना सूचीबद्ध अस्पतालों से संबंधित जानकारी

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसी प्रकार के पंजीकरण की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि यह योजना पूर्णत: पात्रता पर आधारित है। इसकी सूची वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर तैयार की गयी है। पात्र परिवारों के लाभार्थी की अनुबंधित अस्पतालों में पहचान सुनिश्चित होने के पश्चात पांच लाख तक का मुफ्त में चिकित्सा लाभ प्राप्त कर सकते हैं। लाभार्थी किसी भी अनुबंधित सरकारी अथवा निजी (प्राइवेट) अस्पताल में आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, मनरेगा जाब कार्ड अथवा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त फोटो पहचान पत्र के जरिए अपनी पहचान एवं पात्रता सुनिश्चित करवा सकते हैं।

  • कोई भी लाभार्थी ऑफिसियल वेबसाइट पर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सूचीबद्ध अस्पतालों की भी मिलेगी जानकारी|
  • आयुष्मान भारत योजना से सूचीबद्ध अस्पतालों की जानकारी टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर- 180018004444 अथवा 14555 पर काल करके प्राप्त की जा सकती है।
  • एंड्रायड फ़ोन पर उपलब्ध ऐप आयुष्मान सारथी के माध्यम से भी यह जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
  • सूचीबद्ध अस्पतालों की सूची हर जिले पर सीएमओ कार्यालय, ग्राम पंचायत कार्यालय, सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों तथा आशा कार्यकर्ताओं के पास उपलब्ध है, यहां से भी यह जानकारी ली जा सकती है ।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021 के उद्देश्य

योजना का उद्देश्य : इस कार्ड के माध्यम से ग्राहकों को कैशलेस सुविधा प्रदान की जाती है। यानी यह कार्ड अस्पताल में इलाज के दौरान कैश की जगह सारा काम करेगा. इस कार्ड को बोलचाल की भाषा में ई-कार्ड या गोल्डन कार्ड भी कहा जाता है। वहीं, वे लोग जो इस योजना में शामिल हैं लेकिन उन्होंने अब तक यह कार्ड नहीं बनाया है और अगर उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जाता है तो उनका भी कार्ड बन जाता है. इसके लिए अस्पताल में मौजूद प्रधानमंत्री आरोग्य मित्र से मुलाकात कर अपना कार्ड बनवा सकते हैं।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के ​​लिए आवश्यक दस्तावेज़

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज ऑनलाइन आवेदन करें :

  • Aadhar Card
  • मोबाइल नंबर
  • राशन पत्रिका
  • पासपोर्ट साइज फोटो

योजना के लाभ और मुख्य विशेषताएं

स्कीम के बेनिफिट्स & विशेषताएं:

  • इस योजना के तहत लाभार्थी को इलाज के लिए एक कार्ड प्रदान किया जाता है।
  • इसे आयुष्मान गोल्डन कार्ड नाम दिया गया है।
  • यह 30 रुपये में बना कार्ड है, जिसके जरिए योजना के तहत चुने गए सरकारी और निजी अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज हो सकता है.
  • अब सवाल यह है कि यह कार्ड कैसे बनता है। कार्ड के लिए आप घर बैठे बड़ी ही आसानी से आवेदन कर सकेंगे।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड प्राप्त करने के लिए पात्रता की जांच  कैसे करे?

देश के जो लाभार्थी  Ayushman Bharat Golden Card सूची में  पात्रता के अनुसार  शामिल किये जायेगा वही लोग जन आरोग्य गोल्डन कार्ड को डाउनलोड कर सकते है | हमने आपको नीचे पूरी प्रकिया दी हुई है उसे ध्यानपूर्वक पढ़े |

Step 1- सर्वप्रथम आपको आयुष्मान भारत योजना की pmjay.gov.in पर जाना होगा | Official Website पर जाने के बाद आपके सामने वेब पेज खुल जायेगा |

Step 2- इस  वेब पेज पर आपको अपना पंजीकृत मोबाइल नंबर , और कैप्चा कोड को भरना होगा | इसके बाद आखिर में जनरेट OTP पर क्लिक करना होगा क्लिक करने के तुरंत बाद ही आपके पंजीकृत मोबाइल फ़ोन पर एक OTP आएगा |

Step 3- आपको खाली बॉक्स में इस OTP को भरना होगा | इसके बाद आपके सामने कुछ विकल्प दिखाई देंगे जैसे

1 .नाम से

2 .मोबाइल नंबर से

3 .राशन कार्ड के द्वारा

4 .RSBI URN द्वारा

Step 4- वांछित विकल्प पर क्लिक करके अपना नाम खोजे इसके बाद पूछे गयी सभी जानकारी भरे | फिर आपके सामने खोज परिणाम आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जायेगा |

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021 कैसे डाउनलोड करे?

आयुष्मान भारत / जन आरोग्य कार्ड ऑनलाइन कैसे डाउनलोड / प्रिंट करें?

स्टेप 1- आधिकारिक वेबसाइट आयुष्मान भारत योजना यानी https://pmjay.gov.in/ पर जाएं।

स्टेप 2- होमपेज पर आपको लॉगइन का विकल्प दिखाई देगा और लिंक पर क्लिक करें।

चरण 3- लॉगिन पेज स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।

स्टेप 4- अब आप ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर साइन इन के बटन पर क्लिक करें।

चरण 5- अगला वेबपेज, एक आधार संख्या दर्ज करें और अपने अंगूठे के निशान को सत्यापित करें।

स्टेप 6- इस पेज में अप्रूव्ड बेनिफिशरी के ऑप्शन पर क्लिक करें।

स्टेप 7- नए पेज में उन सभी लोगों की लिस्ट आ जाएगी, जिनका गोल्डन कार्ड अप्रूव हुआ है।

स्टेप 8- फिर लिस्ट में अपना नाम चेक करें और उसके आगे कंफर्म प्रिंट के ऑप्शन पर क्लिक करें।

स्टेप 9- ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आप जन सेवा केंद्र वॉलेट पर रीडायरेक्ट हो जाएंगे।

स्टेप 10- सबसे पहले अपना पासवर्ड CSC वॉलेट में डालें।

स्टेप 11- पासवर्ड के बाद वैलेट पिन डालें।

स्टेप 12- इसके बाद आप होम पेज पर आ जाएंगे।

चरण 13- यहां आपको उम्मीदवार के नाम के आगे डाउनलोड कार्ड का विकल्प दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें और कार्ड को डाउनलोड और प्रिंट करें।

ऑफलाइन डाउनलोड प्रक्रिया

Step 1- आप सबसे पहले CSC(कॉमन सर्विस सेंटर) ऑफिस में जाएं।

Step 2- आपको अपने साथ सभी जरुरी दस्तावेज ले जाने होंगे।

Step 3- जिसके बाद केंद्र के अधिकारी आपके अंगूठे का निशान स्कैन करेंगे।

Step 4- जिसके बाद आपका नाम लिस्ट में चेक किया जायेगा।

Step 5- यदि आपका नाम लिस्ट में होगा तो आपको कुछ समय पश्चात आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड मिल जायेगा।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया

आपको आधिकारिक वेबसाइट mera.pmjay.gov.in पर लॉग इन करना होगा और HHD कोड चुनना होगा। इसके बाद कॉमन सर्विस सेंटर में आयुष्मान मित्र को कोड देना होगा। आयुष्मान मित्र कॉमन सर्विस सेंटर आगे की प्रक्रिया को पूरा करेगा। गोल्डन कार्ड के लिए आवेदकों को केवल 30 रुपये का भुगतान करना होगा।

सभी पात्र आवेदक जो इस योजना को लागू करना चाहते हैं, तो सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और ऑनलाइन आवेदन पत्र को लागू करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

लोक सेवा केंद्र द्वारा: सीएससी केंद्र द्वारा

आयुष्मान भारत योजना गोल्डन कार्ड आवेदन पत्र 2021: आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड कैसे बनवाये?

स्टेप 1- सबसे पहले नजदीकी जन सेवा केंद्र पर जाएं, लोक सेवा केंद्र आयुष्मान भारत योजना की सूची में आपका नाम देखेगा.

स्टेप 2- अपना नाम खोज रहे हैं और अगर आपका नाम आयुष्मान भारत योजना सूची में उपलब्ध होगा, तो उन्हें गोल्डन कार्ड दिया जाएगा।

चरण 3- अगला कदम, आपको जन सेवा केंद्र के एजेंट को अपने सभी दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, राशन पत्रिका, पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि एकत्र करना चाहिए।

चरण 4- जिसके माध्यम से एजेंट आपका सफल पंजीकरण करेगा और आपको पंजीकरण आईडी प्रदान करेगा।

स्टेप 5- फिर पब्लिक सर्विस सेंटर आपको 10 से 15 दिन में आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराएगा और गोल्डन कार्ड लेने के लिए आपको 30 रुपये फीस देनी होगी.

पंजीकृत और निजी हॉस्पिटलों के द्वारा : Registered and private hospitals

स्टेप 1- सबसे पहले अपने दस्तावेजों जैसे आधार कार्ड, राशन मैगजीन, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर आदि के साथ नजदीकी निजी या सरकारी अस्पतालों में जाएं।

चरण 2- अगला चरण, जन आरोग्य योजना की सूची में आपका नाम चेक किया जाएगा।

स्टेप 3- इस लिस्ट में नाम आने के बाद ही आपको आयुष्मान कार्ड दिया जाएगा.

महत्वपूर्ण तिथियाँ

Event Date
ऑनलाइन आवेदन पत्र लागू करने की प्रारंभ तिथि
ऑनलाइन आवेदन पत्र आवेदन करने की अंतिम तिथि

महत्वपूर्ण लिंक

Event Link
ऑनलाइन आवेदन लिंक लागू करें पंजीकरण | लॉग इन करें
आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड डाउनलोड यहां क्लिक करें
आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड आधिकारिक वेब पोर्टल लिंक आधिकारिक वेबसाइट

हेल्पलाइन नंबर 

हेल्पलाइन नंबर और संपर्क पता :

  • पता: 9वीं मंजिल, टॉवर-एल, जीवन भारती बिल्डिंग, कनॉट प्लेस, नई दिल्ली – 110001
  • ईमेल ID: [email protected]
  • टोल-फ्री कॉल सेंटर नंबर: 14555/1800111565

Leave a Comment