विधवा पेंशन योजना 2020 List State Wise : Widow Pension Form Apply Online

विधवा पेंशन योजना 2020 लिस्ट | विधवा पेंशन योजना ऑनलाइन फॉर्म | Widow Pension Form 2020 Online Apply | Vidhwa Pension Status List 2020-21 in UP, MP, CG, Bihar, Maharashtra, Rajasthan, Gujarat | Vidhwa Pension ki Jaankari, Helpline Number, Form PDF

विधवा पेंशन योजना 2020

इस योजना को ख़ासतौर पर राज्य की विधवा महिलाओं की सहायता हेतु शुरू किया गया है ताकि विधवा महिलाये जो गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रही है उन विधवाओं को आर्थिक सहायता प्रदान कर सम्मानपूर्वक जीवन-यापन करने हेतु सहयोग किया जा सके। भारत सरकार, ग्रामीण विकास मंत्रालय, ग्रामीण विकास विभाग द्वारा राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (NSAP) के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाली विधवा महिला को आर्थिक सहायता प्रदाय करने के उद्देश्य से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना संचालित की जा रही है। जिसके दवारा केंद्र और राज्य सरकार दोनों मिलकर इस योजना को पूरा कर रही है।

विधवा पेंशन योजना सभी राज्यों में अन्य अन्य नाम से चलाई जा रही है एवं इसमें मिलने वाली राशि, पात्रता भी अलग अलग है विधवा पेंशन योजना राज्यों को उन महिलाओ को दी जाएगी जिसके पति की मृत्यु हो जाने के बाद उनका कोई कमाने वाला नहीं है तथा वो निराश्रित है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी विधवा महिलाओ के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जा रही है इस लिए आवेदक का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और बैंक अकाउंट आधार से लिंक होना चाहिए। इस पोस्ट के माध्यम से आप अपने राज्य में चलने वाली विधवा पेंशन योजना की जानकारी जैसे आवेदन के प्रक्रिया, आवेदन की स्थिति और अन्य योजना से सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Vidhwa Pension Yojana 2020 Summary

योजना का नाम विधवा पेंशन योजना
श्रेणी केंद्र सरकार योजना
आरम्भ की गई केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्यों के लिए
लाभार्थी विधवा महिलाये
लाभ सभी राज्यों में अलग अलग है
उद्देश्य पेंशन प्रदान करना
आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन

विधवा पेंशन योजना 2020 – लाभार्थी/ पात्रता (Beneficiary)

  • इस योजना के तहत विधवा महिलाओ को ही इस योजना के द्वारा लाभ दिया जायेगा।
  • विधवा महिलाओ की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास आधार कार्ड, वोटर कार्ड, राज्य बोनाफाइड होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास आयु प्रमाण पत्र, पति की मृत्यु का प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र और बैंक अकाउंट पस्बुक होना चाहिए।
  • यदि पति की मृत्यु के बाद आवेदिका  ने पुनर्विवाह किया है, तो उसे इस योजना का कोई लाभ नहीं मिलेगा ।
  • यदि विधवा के बच्चे वयस्क नहीं हैं या यदि वे वयस्क हैं, लेकिन अपनी मां की देखभाल करने में सक्षम नहीं हैं, तो महिला को पेंशन मिलेगी। यदि कोई विधवा वयस्क नहीं है तो वह पेंशन पाने के लिए पात्र नहीं होगी।

उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना 2020

उत्तर प्रदेश सरकार ने विधवा महिलाओं को आर्थिक रूप से निराश्रित बनाने के लिए विधवा पेंशन योजना UP की शुरुआत की है इस योजना के अंतर्गत राज्य की विधवा महिलाओ को राज्य सरकार द्वारा प्रतिमाह 500 रूपये की पेंशन धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी। यह वास्तव में केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार के संयुक्त तत्वाधान में शुरू की गई एक योजना है जिसका पूरा नाम नेशनल सोशल असिस्टेंस प्रोग्राम है। इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश की आर्थिक रूप से गरीब उन विधवा महिलाओ को प्रदान  किया जायेगा जिनकी आयु 18 से 60 वर्ष होगी। जब इस योजना की शुरुआत की गई थी तो इसमें दी जाने वाली पेंशन राशि 300 रुपय थी जबकि अब वर्तमान में इस पेंशन योजना के तहत लाभार्थी को 500 रुपय पेंशन स्वरूप मिलते है। इस योजना का लाभ केवल उन महिलाओं को मिलता है जो राज्य में बीपीएल परिवार मतलब गरीबी रेखा के नीचे आने वाले परिवार से संबंध रखती है। इस योजना का लाभ पाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित ऑनलाइन वेबपोर्टल पर अपना पंजीकरण कराना होगा।

महाराष्ट्र विधवा पेंशन योजना 2020

महाराष्ट्र सरकार राज्य की आर्थिक रूप से गरीब विधवा महिलाओ को राज्य सरकार द्वारा प्रतिमाह 600 रूपये की धनराशि वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान करती है। इस योजना के अंतर्गत आवेदनकर्ता की वार्षिक पारिवारिक आय 21 हजार रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। इस महाराष्ट्र विधवा पेंशन योजना के तहत यदि महिला के परिवार में एक से अधिक बच्चे हैं, तो उस परिवार को 900 रूपये प्रति माह पेंशन के रूप में दिए जाते है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक की आयु 65 वर्ष  से कम होनी चाहिए। इस योजना का लाभ पाने के लिए महराष्ट्र सरकार द्वारा संचालित ऑनलाइन वेबपोर्टल पर अपना पंजीकरण कराना होगा।

राजस्थान विधवा पेंशन योजना 2020

राजस्थान सरकार विधवा पेंशन योजना के तहत हर विधवा महिलाओं को जिनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है उन्हें 500 रुपये प्रतिमाह दिए जायेंगे, जबकि 60 वर्ष से अधिक उम्र की विधवा महिलाओं को 1000 रुपये प्रतिमाह और 75 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं को 1500 रुपये प्रतिमाह दिए जायेंगे। इस योजना के अंतर्गत राज्य की विधवा महिलाओ के परिवार की वार्षिक आय 48000 रूपये के अधिक नहीं होनी चाहिए। इस योजना का लाभ लाभार्थी को तभी मिलेगा यदि आवेदक के परिवार का कोई सदस्‍य 25 वर्ष या उससे अधिक आयु का न हो अथवा आजीविका कमाने में शारीरिक रूप से अक्षम हो। गरीबी रेखा से नीचे परिवार की सूची एवं सहरिया परिवार की किसी भी आयु की विधवा को जो H.I.V/Aids positive हो और Rajasthan State Aids Control Society के यहॉं पंजीकृत हो, को भी निराश्रित माना जायेगा एवं पात्रता सम्‍बन्‍धी शर्तों में छूट प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे के परिवार की सूची में सूचीबद्ध विधवा/परित्यक्ता को पात्रता सम्‍बन्‍धी शर्तों में छूट प्रदान की जाएगी।

गुजरात विधवा पेंशन योजना 2020

राज्य सरकार गुजरात विधवा सहय पेंशन योजना के तहत, लाभार्थी को मासिक आधार पर पेंशन प्रदान करती है। इस योजना के अंतर्गत पेंशन राशि डीबीटी मोड के माध्यम से प्रत्यक्ष लाभार्थी के बैंक अकाउंट में स्थानांतरित की जाती है। गुजरात राज्य सरकार, इस योजना के तहत हर विधवा महिलाओं को जिनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है उन्हें 1250 रुपये प्रतिमाह प्रदान करती है। इस योजना के तहत लाभार्थी को गुजरात राज्य का मूल निवासी होना चाहिए और उसकी आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

मध्य प्रदेश विधवा पेंशन योजना 2020

मध्य प्रदेश सरकार इस योजना अंतर्गत गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाली विधवा महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान के उददेश्‍य से पेंशन राशि का भुगतान करती है। इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय विधवा पेंशन योजना के तहत आवेदिका की आयु 40 वर्ष से 79 वर्ष के मध्य होनी चाहिए एवं आवेदिका को भारत सरकार द्वारा निर्धारित मानदंड के अनुसार गरीबी रेखा से नीचे जीवन बसर करने वाले परिवार से संबंधित होना चाहिए। इस योजना के तहत विधवा महिला हितग्राही को प्रतिमाह ₹ 600 की दर से पेंशन प्रदाय की जाती है जिसमें ₹ 300 केन्द्रांश तथा ₹ 300 राज्यांश सम्मिलित है।

बिहार विधवा पेंशन योजना 2020

बिहार सरकार इस योजना के अंतर्गत 18 साल से अधिक उम्र के सभी पात्र विधवाओं को सरकारी पेंशन 500 रुपए प्रतिमाह के रूप में देती है। इस योजना के तहत लाभार्थी को बिहार राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।

इंदिरा गाँधी विधवा पेंशन योजना 2020

केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के तहत देश की विधवा महिलाओ  को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। इस योजना के अंतर्गत देश की विधवा महिलाओ को प्रतिमाह सरकार द्वारा 300 रूपये की पेंशन धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में उपलब्ध कराया जाता है  । इंदिरा गाँधी विधवा पेंशन स्कीम के अंतर्गत देश के जिन विधवा महिलाओ की आयु 40 वर्ष से अधिक और 59 वर्ष से कम है वह इस योजना के तहत आवेदन कर सकती है । इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको इस योजना के तहत आवेदन करना होगा। इस योजना के तहत बीपीएल परिवार की विधवा महिलाये ही आवेदन करके लाभ उठा सकते है।

विधवा पेंशन योजना 2020 आवेदन प्रक्रिया (Apply Online)

विधवा पेंशन योजना 2020 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए आप नीचे बताई गई आवेदन पत्र भरने की प्रक्रिया देख सकते हैं:

Step 1: सबसे पहले आवेदिका को प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर लॉगिन करना होगा।

Step 2: वेबसाइट के होम पेज पर आपको विधवा पेंशन / Widow Pension  पर क्लिक करना होगा। आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा।

Step 3: इसके पश्चात इस फॉर्म में आपको अपनी सभी आवश्यक जानकारी का विवरण दर्ज करना होगा, इसके बाद आपका पंजीकरण सफल हो जायेगा।

Step 4: इसके पश्चात सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करते हुए अपना आवेदन सुनिश्चित कराना होगा।

विधवा पेंशन योजना 2020 आवेदन की स्थिति की जांच (Application Status)

विधवा पेंशन पाने के लिए आवेदन करने के बाद आप इसकी स्थिति ऑनलाइन भी देख सकते हैं। यहां आपके आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए चरण दिए गए हैं;

Step 1: सबसे पहले आवेदिका को आवेदन की स्थिति की जाँच करने के लिए योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर लॉगिन करना होगा।

Step 2: लॉगिन करने के पश्चात वेबसाइट पर, आपको “अपने आवेदन की स्थिति पता करें” विकल्प पर क्लिक करना होगा और फिर पंजीकरण संख्या और खाता संख्या भरना होगा।

Step 3: इसके अतरिक्त यदि कोई जानकारी मांगता है तो उसको दर्ज करना होगा

Step 4: इसके बाद कैप्चा कोड टाइप करें और सबमिट बटन दबाएं और एप्लिकेशन की स्थिति आपके स्क्रीन पर दिखाई देगी।

 

विधवा पेंशन योजना State Wise List 2020-21

State Name Official Website Link
Andhra Pradesh Click Here
Arunachal Pradesh Click Here
Assam Click Here
Bihar Click Here
Chattisgarh Click Here
Chandigarh Click Here
Delhi Click Here
Gujarat Click Here
Jharkhand Click Here
Kerala Click Here
Karnataka Click Here
Madhya Pradesh Click Here
Maharashtra Click Here
Odisha Click Here
Punjab Click Here
Rajasthan Click Here
Sikkim Click Here
Tamil Nadu Click Here
Uttarakhand Click Here
Uttar Pradesh Click Here

Leave a Comment